Monday , 27 May 2019
Breaking News

विद्युत धारा

विद्युत धारा
किसी चालक में विद्युत् आवेश के प्रवाह की दर को विद्युत् धारा कहते हैं । विद्युत् धारा की दिशा धन आवेश की गति की दिशा की ओर मानी जाती है । इसका S . I . मात्रक एम्पियर है । यह एक अदिश राशि है ।

अमीटर ( Ammeter )
इसकी सहायता से धारा का मान एम्पियर में ज्ञात किया जाता है । एक आदर्श अमीटर का प्रतिरोध शून्य होता है । अमीटर को सदैव विद्युत परिपथ के श्रेणीक्रम में लगाया जाता है ।

वोल्टमीटर ( Voltmeter )
धारामापी के श्रेणीक्रम में एक उच्च प्रतिरोध लगाकर वोल्टमीटर बनाया जाता है । एक आदर्श वोल्टमीटर का प्रतिरोध अनन्त होता है । इसको परिपथ के किन्हीं दो बिन्दुओं के बीच समान्तर क्रम में जोड़ते हैं , जिनके बीच विभवान्तर ज्ञात करना होता है ।

प्रत्यावर्ती धारा ( Alternating Current , AC )
यह एक ऐसी धारा है , जिसका परिमाण तथा दिशा समय के साथ बदलते हैं । यह धारा पहले एक दिशा में शून्य से अधिकतम व अधिकतम से शून्य तथा फिर विपरीत दिशा में अधिकतम व अधिकतम से शून्य हो जाती है । इसे प्रत्यावर्ती धारा का एक चक्र ( cycle ) कहते हैं ।

स्थिर विद्युत क्या है ?

प्रकाश विद्युत प्रभाव ( Photo Electric effect )
इस प्रभाव की खोज हज ने की थी । किसी धातु की सतह पर प्रकाश पड़ने से इलेक्ट्रॉन निकलने की क्रिया प्रकाश विद्युत प्रभाव कहलाती है ।

ओम का नियम
किसी चालक की भौतिक अवस्थाओं , ताप , लम्बाई , मोटाई के स्थिर रहने पर उसके सिरों पर लगाया गया विभवान्तर उसमें प्रवाहित विद्युत धारा के अनुक्रमानुपाती होता है ।
v = iR

प्रतिरोध ( Resistance )
किसी चालक में विद्युत् धारा के प्रवाहित होने पर चालक के परमाणुओं तथा अन्य कारकों द्वारा उत्पन्न किये गये व्यवधान को ही चालक का प्रतिरोध कहते है । इसका SI मात्रक ओम ( Ω ) होता है ।

ट्रांसफॉर्मर ( Transformer )
यह एक उच्च A . C . ( प्रत्यावर्ती धारा ) वोल्टेज को निम्न A . C . वोल्टेज और निम्न A . C . वोल्टेज को उच्च A . C . वोल्टेज में बदल देता है ।

विद्युत् फ्यूज ( Electric fuse )
विद्युत् फ्यूज का प्रयोग परिपथ में लगे उपकरणों की सुरक्षा के लिए किया जाता है , यह टिन ( 63 % ) व सीसा ( 37 % ) की मिश्रधातु का बना होता है । यह सदैव परिपथ के साथ श्रेणीक्रम में जोड़ा जाता है । इसका गलनांक कम होता है ।

Check Also

जल के गुण

जल एक रसायनिक पदार्थ है जिसका रसायनिक सूत्र H2O है: जल के एक अणु में दो हाइड्रोजन के परमाणु सहसंयोजक बंध के द्वारा एक ऑक्सीजन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *