Monday , 22 July 2019

हैलोजन परिवार

हैलोजन परिवार ( HALOGEN FAMILY )

फ्लोरीन , क्लोरीन , ब्रोमीन और आयोडीन – ये सब तत्व एक ही परिवार के सदस्य हैं । इन्हीं सब तत्वों को सम्मिलित रूप में ‘ हैलोजन परिवार ‘ कहते हैं । आवर्ती वर्गीकरण में इन तत्वों को ‘ सातवें बी ’ वर्ग में रखा गया है । ‘ हैलोजन ‘ – यह नाम बर्जीलियस नामक वैज्ञानिक ने दिया । यह यूनानी भाषा का शब्द है ।

( Hals – समुद्री नमक , Gennao – मैं बनाता हूँ । )

इसलिए , हैलोजोन शब्द का अर्थ हुआ ‘ समुद्री जल से उत्पन्न ‘ । ये तत्त्व समुद्री जल में अपने – अपने लवणों के रूप में मिलते हैं । सोडियम क्लोराइड ( खाने वाला नमक ) जो क्लोरीन गैस का यौगिक है , इन यौगिकों में प्रमुख है ।

हाइड्रोजन गैस के मुख्य उपयोग

हैलोजन फैमली के सदस्यों के सरल गुण
साधारण ताप पर फ्लोरीन और क्लोरीन गैसें हैं , ब्रोमीन द्रव , आयोडीन एक ठोस है । परमाणु भार के बढ़ने के साथ – साथ इन तत्वों के गुण में भी परिवर्तन होता जाता है । इनके मुख्य गुण निम्न तालिका में वर्णित हैं-

हैलोजन परिवार के सदस्यों के मुख्य गुण गुण

गुण फ़्लोरीन – F क्लोरिन – CL ब्रोमीन – Br आयोडीन – I
परमाणुभार 19 35.457 79.916 126.91
समुच्चय स्थिति गैस गैस द्रव ठोस
रंग पीला हरापन लिए हुए पीला गाढ़ा लाल बैंगनी
गलनांक -223°C -101°C -6.3°C +113°C
क्वथनांक -187.9°C -34°C 58.8°C 184.35°C
आपेक्षिक घनत्व 1.08 ( द्रव ) 1.55 ( द्रव ) 3.19 ( द्रव ) 4.93

Check Also

जल के गुण

जल एक रसायनिक पदार्थ है जिसका रसायनिक सूत्र H2O है: जल के एक अणु में दो हाइड्रोजन के परमाणु सहसंयोजक बंध के द्वारा एक ऑक्सीजन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *