Thursday , 23 May 2019
Breaking News

महाजनपद

महाजनपद (Mahajanpada Age)

mahajanpad

सोलह महाजनपद ( Sixteen Mahajanpadas )
छठी शताब्दी ई . पू . में उत्तरी भारत विभिन्न जनपदों में विभक्त था । बौद्ध ग्रंथ अंगुत्तर निकाय तथा जैन ग्रंथ ‘ भगवती सूत्र में सोलह ( 16 ) महाजनपदों का उल्लेख है जिसे षोड्श महाजनपद कहा जाता था । ये जनपद अग्र प्रकार थे-

संगम युग

महाजनपद (Mahajanpadas)

 

क्र. जनपद स्थिति राजधानी
1. काशी वरूणा तथा आसी नदी के संगम पर वाराणसी
2. कौशल उत्तर प्रदेश के मध्य में उत्तर की ओर श्रावस्ती
3. अंग मगध राज्य के पूर्व में चम्पानगरी
4. मगध आधुनिक बिहार राज्य के गया तथा पटना जिले के मध्य से राजगृह
5. मल्ल वज्जि संघ राज्य के उत्तर में स्थित थी |
यह दो भागों में विभाजित था
एक भाग – कुशीनगर
दूसरा भाग – पावापुरी
6. वज्जि आधुनिक बिहार राज्य के उत्तरी भाग में स्थित ।
यह आठ राज्यों का एक संघ था
वैशाली
7. चेदि केन नदी के तट पर आधुनिक बुन्देलखण्ड
में स्थित था
शुक्तिमती
8. वत्स आधुनिक इलाहाबाद के पास कौशाम्बी
9. कुरु दिल्ली और मेरठ के समीप स्थित था इन्द्रप्रस्थ
10. पांचाल गंगा यमुना के दोआब में आधुनिक
रुहेलखण्ड में स्थित था यह दो भागों
में विभक्त था
( क ) उत्तरी पांचाल
( ख ) दक्षिणी पांचाल
आहिक्षत्र काम्पिल्य
11. अश्मक गोदावरी नदी के तट पर स्थित था
दक्षिण भारत का एकमात्र महाजनपद
पोटली / पोतन
12. मत्स्य यह वर्तमान जयपुर , अलवर तथा
भरतपुर के कुछ भागों में स्थित था
विराटनगरी
13. शूरसेन मत्स्य राज्य के दक्षिण में स्थित था मथुरा
14. गान्धार यह आधुनिक कश्मीर के आस – पास
स्थित था
तक्षशिला
15. कम्बोज यह कश्मीर , अफगानिस्तान तथा पामीर
के भू – भाग तक था
हाटक
16. अवन्ति मालवा प्रदेश में स्थित था उज्जयनी महिष्मती

Check Also

जल के गुण

जल एक रसायनिक पदार्थ है जिसका रसायनिक सूत्र H2O है: जल के एक अणु में दो हाइड्रोजन के परमाणु सहसंयोजक बंध के द्वारा एक ऑक्सीजन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *