Tuesday , 16 July 2019
Home / सामान्य ज्ञान / इतिहास / शेरशाह सूरी का शक्ति प्राप्त करना

शेरशाह सूरी का शक्ति प्राप्त करना

शक्ति प्राप्त करना ( Rise to Power )

बहार खां ने शेर खां को पुनः अपने पास रख लिया । शीघ्र ही बहार खां की मृत्यु हो गई और उसकी विधवा ने शेर खां को अपने पुत्र जलाल खां का संरक्षक नियुक्त कर दिया । इसके पश्चात् जलाल खां की माता भी चल बसी और सारी शक्ति शेर खां के हाथ में आ गई । जब जलाल खां ने शेर खां से छुटकारा पाने के लिए षड्यन्त्र रचने का प्रयत्न किया तो शेर खां ने उसे पराजित करके बिहार पर पूरी तरह अपना अधिकार कर लिया ।

जानिये शेरशाह सूरी की शिक्षा के बारे में

एक ओर तो शेर खां ने बिहार में अपना स्वतन्त्र राज्य स्थापित कर लिया तो दूसरी ओर चुनार के शासक ताज खां की विधवा लाड मलिका ( Lad Malika ) से विवाह करके चुनार के किले और उसके धन पर अपना नियन्त्रण कर लिया । इस प्रकार शेर खां ने अपनी शक्ति में वृद्धि करनी आरम्भ कर दी । चुनार पर शेर खां का अधिकार हुआ देख कर हुमायू ने चुनार के किले पर घेरा डाल लिया । शेर बां ने हुमायू से सन्धि कर लेना ही अच्छा समझा । हुमायू भी सन्धि कर लेने से प्रसन्न हो गया और शेर खां से समझौता करके वापस चला गया ।

Check Also

जल के गुण

जल एक रसायनिक पदार्थ है जिसका रसायनिक सूत्र H2O है: जल के एक अणु में दो हाइड्रोजन के परमाणु सहसंयोजक बंध के द्वारा एक ऑक्सीजन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *