Monday , 22 July 2019
Home / सामान्य ज्ञान / इतिहास / भारत पर अरब एवं तुर्क आक्रमण

भारत पर अरब एवं तुर्क आक्रमण

भारत पर अरब एवं तुर्क आक्रमण (Arab & Turkish Invasion on India)

भारत पर अरब एवं तुर्क आक्रमण

अरबों का आक्रमण (Arab Invasion)
भारत में इस्लाम के प्रचार के उद्देश्य से सर्वप्रथम मुहम्मद बिन कासिम ने 712 ई . में आक्रमण किया था ।

चोल साम्राज्य

महमूद गजनवी 998 – 10300 ई . ( Mehmud Ghaznavi )

  • उसका प्रमुख उद्देश्य भारत की सम्पत्ति को लूटना था ।
  • 1025 ई . में महमूद ने सोमनाथ (गुजरात ) पर आक्रमण किया और मंदिर को पूर्णतया नष्ट कर दिया । इस समय यहाँ का शासक भीम – 1 था ।
  • महमूद के संरक्षण में अलबरूनी , फिरदौसी , उत्वी एवं फर्रुखी आदि विद्वान थे ।
  • अलबरूनी की रचना किताब – उल – हिन्द ( तारीख – ए – हिन्द ) है ।

शिहाबुद्दीन उर्फ मुईजुद्दीन मुहम्मद गौरी ( Shihabhuddin Alias Muizuddin Vohmmad Ghori )

  1. तराइन का प्रथम युद्ध : यह युद्ध 1191 ई . भटिण्डा के निकट तराइन में हुआ जिसमें पृथ्वीराज तृतीय ने मुहम्मद गौरी को हरा दिया ।
  2. तराइन का द्वितीय युद्ध : यह युद्ध 1192 ई . में हुआ जिसमें | मुहम्मद गौरी विजयी रहा और पृथ्वीराज तृतीय को कैद कर लिया गया और बाद में मृत्यु दण्ड दे दिया गया ।
  3. चन्दावर का युद्ध : यह युद्ध 1194 ई . में हुआ जिसमें गौरी ने कन्नौज के शासक जयचन्द को पराजित कर उसे मार डाला । ।
  • मुहम्मद गौरी जब वापस गजनी जा रहा था तो दमयक नामक स्थान पर 15 मार्च , 1206 ई . को उसकी हत्या कर दी गई ।
  • 1206 ई . में गौरी की मृत्यु के बाद ऐयक ने भारत में गुलाम वंश की नींव रखी ।

Check Also

जल के गुण

जल एक रसायनिक पदार्थ है जिसका रसायनिक सूत्र H2O है: जल के एक अणु में दो हाइड्रोजन के परमाणु सहसंयोजक बंध के द्वारा एक ऑक्सीजन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *