Friday , 24 May 2019
Breaking News

रौलेट एक्ट

रौलेट एक्ट ( Rowlatt Act )

जिस समय मांटेगू चेम्सफोर्ड के सुधारों को प्रकाशित किया और कांग्रेस के गर्म दल को कोई सन्तोष न हुआ तो उन्होंने सरकार के विरुद्ध कोई ठोस कदम उठाने के लिए सोचना शुरू कर दिया । वैसे भी नर्म दल कांग्रेस से अलग हो गया था । उसने इण्डियन नेशनल लिबरल फैडरेशन ( Indian National Liberal Federation ) नाम की एक और ही संस्था बना ली थी ।

पूर्ण स्वतंत्रता की मांग

यह देखकर कि कांग्रेस गर्म दल के हाथ आ गई है और सुधारों से उनका सन्तोष नहीं हुआ , अंग्रेज सरकार ने सोचा कि अब निश्चय ही कोई आन्दोलन शुरू होगा , इसलिए उन्होंने 1919 ई० में रौलेट ऐट ( Rowlatt Act ) पास कर दिया जिसकी शक्ति से किसी भी व्यक्ति को बिना मुकद्दमा चलाए कैद किया जा सकता था । इस एक्ट से सारे भारत में क्रोध की लहर भड़क उठी तथा गांधी जी भी मैदान में आ गए । उन्होंने देश का राजनीतिक नेतृत्व सम्भाल लिया ।

Check Also

जल के गुण

जल एक रसायनिक पदार्थ है जिसका रसायनिक सूत्र H2O है: जल के एक अणु में दो हाइड्रोजन के परमाणु सहसंयोजक बंध के द्वारा एक ऑक्सीजन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *