Monday , 27 May 2019
Breaking News
Home / सामान्य ज्ञान / इतिहास / भारत के प्रमुख वायसराय

भारत के प्रमुख वायसराय

भारत के प्रमुख वायसराय ( Chief Viceroy of India )

भारत के प्रमुख वायसराय

लॉर्ड कैनिंग ( 1856 – 1862 ई . )
ये अन्तिम गवर्नर जनरल व प्रथम वायसराय थे । इनके शासन काल में  1857 का विद्रोह , रेलों का विस्तार , कलकत्ता , बम्बई और मद्रास विश्वविद्यालयों की स्थापना ( 1857 ) , भारत में बजट पद्धति का प्रारम्भ , हाई कोटों की स्थापना हुई ।

लॉर्ड लिटन ( 1876 – 1880 ई . )
इनके शासन काल में दिल्ली दरबार का आयोजन , महारानी विक्टोरिया को कैसर – ए – हिन्द की उपाधि , वर्नाक्युलर प्रेस एक्ट तथा इण्डियन आर्म्स एक्ट हुए ।

लॉर्ड रिपन ( 1880 – 1884 ई . )
इनके शासन काल में अफगान युद्ध की समाप्ति , इलबर्ट बिल पर बहस , प्रेस की स्वतन्त्रता , प्रथम कारखाना अधिनियम , स्थानीय स्वशासन की शुरुआत , जनगणना प्रणाली की स्थापना , स्कूली शिक्षा हेतु हण्टर आयोग की नियुक्ति की स्थापना हुई ।

लॉर्ड कर्जन ( 1899 – 1905 ई . )
इनके शासन काल में शासन तथा शिक्षा सुधार , महामारी और अकाल , भारतीय विश्वविद्यालय अधिनियम ( 1904 ) , पुलिस आयोग का गठन , टॉमस रैले विश्वविद्यालय आयोग का गठन , रेलवे बोर्ड का गठन , बंगाल का विभाजन हुए ।

लॉर्ड हार्डिंग ( 1910 – 1916 ई . )
इनके शासन काल में सम्राट जॉर्ज पंचम का भारत आगमन , दिल्ली दरबार , बंगाल का विभाजन रद्द होना , राजधानी कलकत्ता से दिल्ली हस्तान्तरित आदि हुए ।

लॉर्ड चेम्सफोर्ड ( 1916 – 1921 ई . )
इनके शासन काल में भारत शासन अधिनियम 1919 , जलियाँवाला बाग हत्याकाण्ड , रोलेट एक्ट , खिलाफत आन्दोलन , असहयोग आन्दोलन , शिक्षा पर सैडलर आयोग की नियुक्ति हुए ।

लॉर्ड रीडिंग ( 1921 – 1926 ई . )
ये एकमात्र यहूदी गवर्नर जनरल थे , प्रिन्स ऑफ वेल्स का भारत आगमन , काकोरी ट्रेन डकैती इन्ही के शासन काल में हुई ।

लॉर्ड इरविन ( 1926 – 1931 ई . )
इन्ही के शासन काल में साइमन कमीशन की नियुक्ति ( 1927 ) व आगमन ( 1928 ) , नेहरू रिपोर्ट , साण्डर्स की हत्या , भगत सिंह व बटुकेश्वर दत्त द्वारा असेम्बली में बम फेंका गया , शारदा अधिनियम , कांग्रेस द्वारा पूर्ण स्वराज्य ( 1929 ) की घोषणा , गाँधीजी की दाण्डी यात्रा आदि हुआ ।

लॉर्ड वेलिंगटन ( 1931 – 1934 ई . )
इनके शासन काल में पूना समझौता , 1935 ई . का एक्ट , साम्प्रदायिक निर्णय हुआ ।

लॉर्ड लिनलिथगो ( 1984 – 1943 ई . )
इनके शासन काल में 1935 ई . के भारत शासन अधिनियम के अन्तर्गत चुनाव व प्रान्तीय स्वराज्य की स्थापना , अगस्त प्रस्ताव , क्रिप्स मिशन का आगमन , भारत छोड़ो आन्दोलन हुआ ।

लॉई वैवेल ( 1943 – 1947 ई . )
इनके शासन काल में वैवेल योजना एवं शिमला सम्मेलन , आजाद हिन्द फौज पर मुकदमा , नौसेना विद्रोह , कैबिनेट मिशन , संविधान सभा का गठन आदि हुआ ।

लॉर्ड माउण्टबेटन ( 1947 – 1948 ई . )
ये भारत के अन्तिम वायसराय व स्वतन्त्र भारत के प्रथम गवर्नर जनरल थे , इनके शासन काल में भारत का विभाजन तथा पाकिस्तान का निर्माण हुआ ।

चक्रवर्ती राजगोपालाचारी ( 1948 – 1950 ई . )
चक्रवर्ती राजगोपालाचारी स्वतन्त्र भारत के प्रथम तथा अन्तिम भारतीय गवर्नर जनरल थे ।

Check Also

जल के गुण

जल एक रसायनिक पदार्थ है जिसका रसायनिक सूत्र H2O है: जल के एक अणु में दो हाइड्रोजन के परमाणु सहसंयोजक बंध के द्वारा एक ऑक्सीजन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *