Friday , 24 May 2019
Breaking News
Home / सामान्य ज्ञान / अर्थव्यवस्था / भारतीय अर्थव्यवस्था

भारतीय अर्थव्यवस्था

भारतीय अर्थव्यवस्था

अन्तर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के अनुसार मौद्रिक ( Nominal ) सकल घरेलू उत्पाद में भारतीय अर्थव्यवस्था विश्व की छठी अर्थव्यवस्था है । इसी प्रकार भारतीय अर्थव्यवस्था क्रय शक्ति समता के आधार पर विश्व की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था है । दोनों ही दृष्टियों से अमेरिका विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था ( वर्ष 2011 ) है । वित्तीय क्षेत्र की एक प्रमुख ब्रिटिश कम्पनी प्राइस वाटर हाउस कूपर्स ( Price Water House Coopers , PWC ) ने अपनी एक अध्ययन रिपोर्ट में यह निष्कर्ष निकाला है कि यदि सब कुछ अपेक्षित दर से बना रहा , तो विनिमय दर के आधार पर भारतीय अर्थव्यवस्था विश्व की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था वर्ष 2050 में होगी , जबकि क्रय शक्ति समता के आधार पर यह विश्व की दूसरी बड़ी अर्थव्यवस्था उसी वर्ष ( 2050 में ) हो जाएगी ।

केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय ( सीएसओ ) द्वारा 31 मार्च , 2017 को वित्त वर्ष 2016 – 17 के लिए स्थिर मूल्यों ( आधार वर्ष 2011 – 12 ) पर सकल घरेलू उत्पाद की विकास दर में 7.1 % की वृद्धि एवं चालू मूल्यों पर 11.5 % की वृद्धि का अनन्तिम अनुमान जारी किया गया है । स्थिर कीमतों पर प्रतिव्यक्ति आय ( 2011 – 12 के मूल्यों पर ) वर्ष 2016 – 17 में ₹ 82,269 है । वर्ष 2012 – 13 से 2016 – 17 तक विकास दर क्रमश : इस प्रकार रही ।

वित्त वर्ष विकास दर ( नई सीरीज में )
2012 – 13 5.5
2013 – 14 6.4
2014 – 15 7.5
2015 – 16 8.0
2016 – 17 7.1

Check Also

जल के गुण

जल एक रसायनिक पदार्थ है जिसका रसायनिक सूत्र H2O है: जल के एक अणु में दो हाइड्रोजन के परमाणु सहसंयोजक बंध के द्वारा एक ऑक्सीजन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *