Monday , 22 July 2019

ऑक्सीकरण और अपचयन

ऑक्सीकरण और अपचयन ( Oxidation and Reduction ) ऑक्सीकरण एवं अपचयन के बारे में प्रारम्भिक धारणा दहन ( आग का जलना ) रासायनिक क्रिया का प्राचीनतम उदाहरण है । आप जानते हैं कि आग जलाने के लिए ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है जिससे ‘ ऑक्सीकरण ‘ की क्रिया सम्पादित होती है । इस प्रकार से , सर्वप्रथम , ऑक्सीजन और …

Read More »

सरंचना के आधार पर ज्वाला के प्रकार

सरंचना के आधार पर ज्वाला के प्रकार ज्वाला की रचना जलने वाले दाह्य पदार्थ पर निर्भर है । ज्वाला के प्रकार ( 1 ) सरल ज्वाला ( Simple Flame ) या ( 2 ) द्विक ज्वाला ( Double Flame ) हो सकती । 1 . सरल ज्वाला ( Simple Flame ) हाइड्रोजन अथवा कार्बन मोनॉक्साइड गैस वायु में जलकर सरल ज्वाला …

Read More »

हैलोजन परिवार

हैलोजन परिवार ( HALOGEN FAMILY ) फ्लोरीन , क्लोरीन , ब्रोमीन और आयोडीन – ये सब तत्व एक ही परिवार के सदस्य हैं । इन्हीं सब तत्वों को सम्मिलित रूप में ‘ हैलोजन परिवार ‘ कहते हैं । आवर्ती वर्गीकरण में इन तत्वों को ‘ सातवें बी ’ वर्ग में रखा गया है । ‘ हैलोजन ‘ – यह नाम …

Read More »

हाइड्रोजन गैस के मुख्य उपयोग

हाइड्रोजन गैस के मुख्य उपयोग रासायनिक उद्योगों में प्रौर तकनीकी में हाइड्रोजन बड़ी उपयोगी गैस है । इस गैस के उपयोग हैं :- 1 . हाइड्रोक्लोरिक अम्ल , अमोनिया और मेथिल अल्कोहल के प्रौद्योगिक निर्माण में । 2 . कोल और पेट्रोलियम फैक्शन्स के हाइड्रोजनीकरण की विधि द्वारा संश्लेषित पेट्रोल के निर्माण में । 3 . वनस्पति तेलों के हाइड्रोजन …

Read More »

वायु के मुख्य अवयव

वायु के मुख्य अवयव ऑक्सीजन और नाइट्रोजन वायु के मुख्य अवयव हैं । इन गैसों के अलावा वायु में पानी की वाष्प और कार्बन – डाइआक्साइड भी थोड़ी मात्रा में अवश्य रहते हैं । आयतन के अनुसार ऑक्सीजन और नाइट्रोजन मिलाकर वायु का लगभग 99 % भाग है । कार्बन – डाइआक्साइड लगभग 0 . 03 % भाग है । …

Read More »

वायु में कार्बन डाइआक्साइड

वायु में कार्बनडाइआक्साइड ज्ञात करने की विधि- प्रयोग- एक बीकर में थोड़ा ताज़ा चूने का पानी Ca(OH)2 लो । इस बीकर को वायु में कुछ दिनों के लिए खुला छोड़ दो । आप देखेंगे कि बीकर की तली में खड़िया की सफ़ेद पर्त जम गई है । वायु में उपस्थित कार्बन – डाइ – आक्साइड चूने के पानी से क्रिया …

Read More »

रासायनिक समीकरण

रासायनिक समीकरण ( Chemical Equations ) संकेतों और सूत्रों की सहायता से रासायनिक प्रतिक्रिया को संक्षिप्त रूप से प्रकट करने को रासायनिक समीकरण कहते हैं । दूसरे शब्दों में यह किसी रासायनिक क्रिया में भाग लेने वाले भिन्न – भिन्न पदार्थों में होने वाले परिवर्तनों का सांकेतिक वर्णन है । इससे यह पता चल जाता है कि रासायनिक क्रिया में …

Read More »