Monday , 20 May 2019
Breaking News
Home / ताजा खबर / अंतर्राष्ट्रीय / इसरो ने GSAT-7A उपग्रह का सफल प्रक्षेपण किया

इसरो ने GSAT-7A उपग्रह का सफल प्रक्षेपण किया

19 दिसंबर, 2018 को इसरो ने अपने संचार उपग्रह GSAT-7A का श्रीहरिकोटा के स्पेसपोर्ट से सफल प्रक्षेपण किया. इस उपग्रह को केयू-बैंड उपयोगकर्ताओं को संचार क्षमताएं मुहैया कराने और वायुसेना के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

इस उपग्रह की सहायता से वायुसेना की नेटवर्क आधारित युद्ध संबंधी क्षमताओं में बढ़ोतरी होगी और ग्लोबल कार्यक्षेत्र में दक्षता भी  बढ़ेगी.

इसरो द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, ‘यह एक अत्याधुनिक सैटेलाइट है, जिसे भविष्य की जरूरतों के हिसाब से बनाया गया है. यह देश के सबसे दूरदराज के इलाकों में हाथ से पकड़े जाने वाले उपकरणों तथा उड़ते उपकरणों से भी संपर्क कर सकता है.’ विश्व में अमेरिका, रूस और चीन जैसे देश ही अभी तक अपनी सेना के लिए इस प्रकार के उपग्रह प्रक्षेपित कर चुके हैं.

महत्वपूर्ण तथ्य

  • यह उपग्रह वायुसेना के विमान, हवा में मौजूद अर्ली वार्निंग कंट्रोल प्लेटफॉर्म, ड्रोन और ग्राउंड स्टेशनों को जोड़ देगा जिससे एक केंद्रीकृत नेटवर्क तैयार होगा.
  • इसे GSLV-F11 रॉकेट की सहायता से लॉन्च किया गया है और इसका वजन 2,250 किलोग्राम है.
  • यह उपग्रह इसरो ने ही तैयार किया है जो कि आठ वर्ष तक सेवाएं दे सकता है.

 

Check Also

csk-team-2019

इस भारतीय खिलाड़ी ने 2016 से लगातार 3 आईपीएल खिताब जीते हैं, क्या वह एक बार फिर ऐसा कर सकता है?

भारतीय क्रिकेटर कर्ण शर्मा ने 2016 से 2018 तक लगातार तीन इंडियन प्रीमियर लीग खिताब …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *