Thursday , 23 May 2019
Breaking News
Home / सामान्य ज्ञान / अर्थव्यवस्था

अर्थव्यवस्था

अर्थव्यवस्था , दो शब्दों से मिलकर बना है – अर्थ एवं व्यवस्था । अर्थ का तात्पर्य मुद्रा ( Money ) से है ओर व्यवस्था का तात्पर्य एक स्थापित कार्यप्रणाली से है । अर्थव्यवस्था ( Economy ) , अर्थशास्त्र रूपी सैद्धान्तिक पक्ष का व्यावहारिक स्वरूप है । अर्थव्यवस्था उत्पादन , वितरण एवं खपत की एक सामाजिक व्यवस्था है । अर्थव्यवस्था का सम्बन्ध किसी भी देश की समस्त आर्थिक गतिविधियों से है । किसी भी समाज में व्यक्ति को भोजन , वस्त्र , आवास , सड़क , डाक सेवा , चिकित्सा , शिक्षा आदि भौतिक सुविधाओं की आवश्यकता होती है । इन्हीं भौतिक आवश्यकताओं की पूर्ति करने वाली संस्थागत प्रणाली को अर्थव्यवस्था कहा जाता है तथा इन विषयों का अध्ययन करने वाले शास्त्र को अर्थशास्त्र ( Economics ) कहा जाता है ।

अर्थव्यवस्था के क्षेत्र

अर्थव्यवस्था के क्षेत्र सामान्यतः सम्पूर्ण भारतीय अर्थव्यवस्था की आर्थिक गतिविधियों को लेखांकित करने के लिए तीन क्षेत्र में विभाजित किया जाता है । प्राथमिक क्षेत्र ( Primary Sector ) अर्थव्यवस्था का यह क्षेत्र प्रत्यक्ष रूप से पर्यावरण पर निर्भर होती है । इन गतिविधियों का संबंध भूमि , जल , वनस्पति और खनिज जैसे प्राकृतिक संसाधनों से है । कृषि , …

Read More »

भारतीय अर्थव्यवस्था

भारतीय अर्थव्यवस्था अन्तर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के अनुसार मौद्रिक ( Nominal ) सकल घरेलू उत्पाद में भारतीय अर्थव्यवस्था विश्व की छठी अर्थव्यवस्था है । इसी प्रकार भारतीय अर्थव्यवस्था क्रय शक्ति समता के आधार पर विश्व की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था है । दोनों ही दृष्टियों से अमेरिका विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था ( वर्ष 2011 ) है । वित्तीय क्षेत्र की एक …

Read More »

अर्थशास्त्र की शाखाएँ

अर्थशास्त्र की शाखाएँ अर्थशास्त्र को दो शाखाओं में विभाजित किया गया है , जो निम्नलिखित हैं व्यष्टि अर्थशास्त्र व्यष्टि अर्थशास्त्र ( Micro Economics ) के अन्तर्गत एक इकाई के व्यवहार तथा इसके द्वारा साधनों के आवण्टन का अध्ययन किया जाता है । व्यष्टि अर्थशास्त्र छोटे स्तर पर अर्थव्यवस्था का अध्ययन करता है । व्यष्टि अर्थशास्त्र के अन्तर्गत सूक्ष्म इकाइयों ; …

Read More »